image caption:

टीचर की डांट से परेशान 7वीं की छात्रा ने की आत्‍महत्‍या, हाथ पर लिखा सुसाइड नोट

Date : 2018-12-06 04:56:00 PM

नई दिल्ली-(06-12-2018)-राजधानी दिल्ली के इंदरपुरी इलाके में सातवीं कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्रा ने अपने घर में फंदा लगा कर कथित रूप से आत्महत्या कर ली । पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। छात्रा की मां को संदेह है कि स्कूल शिक्षक की डांट के कारण उनकी बेटी ने यह कदम उठाया है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि घटना के कारण का पता लगाने के लिए पुलिस जांच कर रही है।  सूचना मिलने के बाद पहुंची इन्द्रपुरी थाना पुलिस ने बच्ची के शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने परिजनों के बयान लेकर जांच शुरू कर दी है। उधर, मामले में स्कूल ने भी अपनी कमेटी बनाकर आंतरिक जांच शुरू करा दी है, जिसकी रिर्पोट स्कूल प्रबंधन जल्द ही पुलिस को सौंपेगा। जिसके बाद मामले की उचित कार्रवाई की जाएगी।  पुलिस अधिकारी के अनुसार मृतका 12 वर्षीय डेज़ी राठौर अपनी माँ कमल राठौर के साथ इन्द्रपुरी इलाके में रहती है। मृतका की माँ तीस हजारी कोर्ट में वकालत करती हैं। कमल राठौर ने बताया कि शुक्रवार को उनकी बेटी स्कूल से रोते हुए आई, पूछने पर उसने बताया कि स्कूल में बॉयो टीचर ने उसे डांटा है और क्लास टीचर के सामने उसकी बेइज्जती की है। 

डेज़ी ने रोते हुए कहा कि वह अब कभी भी स्कूल नहीं जाएगी। शनिवार सुबह वह फिर से स्कूल न जाने की जिद्द करने लगी, तो कमल उसे घर पर ही छोड़ कर कोर्ट चली गई। शाम करीब 4 बजे जब कमल कोर्ट से घर लौटी तो उन्होंने डेज़ी को उसके कमरे में पंखे से लटके हुए पाया। उन्होंने तुंरत डेज़ी को पंखे से उतार कर अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर मामले की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू की। प्राथमिक जांच में पुलिस को डेज़ी के कमरे से एक पेज की सुसाइड़ नोट मिला, साथ ही डेजी ने अपने दोनों हाथों पर भी सुसाइड़ नोट लिखा हुआ था। सूत्रों की माने तो सुसाइड़ नोट में छात्रा ने स्कूल में अक्सर बॉयो टीचर द्वारा डांटने व परेशान करने की बात लिखी है। पुलिस ने सुसाइड़ नोट कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। फिलहाल पुलिस ड़ेजी के साथ पढ़ने वाले बच्चों के बयान लेने के साथ ही स्कूल प्रबंधक की रिर्पोट का इंतजार कर रही है। जिसके बाद पुलिस मामले में कार्रवाई करने की बात कह रही है।