image caption:

सीजन में मिलें चालू न करने वालों पर पर्चा दर्ज करे कैप्टन सरकार : सुखबीर बादल

Date : 2018-12-06 03:22:00 PM

भोगपुर-(06-12-2018)-पंजाब की शुगर मिलों पर दोआबा के गन्ना किसानों की 427 करोड़ रुपये बकाया राशि का भुगतान व बंद पड़ी प्राइवेट शूगर मिलों को चालू करवाने के लिए भोगपुर शुगर मिल के पास एक खाली प्लाट में शिरोमणि अकाली द्वारा धरना दिया गया। धरने में शामिल होने पहुंचे शिअद प्रधान सुखबीर बादल ने कहा कि सीजन होने के बावजूद मिलें चालू न करने वाले मालिकों पर कैप्टन सरकार पर्चा दर्ज करे।बुधवार को दिए गए इस धरने के इंचार्ज विधायक पवन कुमार टीनू को शुगर मिल गेट के सामने धरना देने की इजाजत न मिलने पर उन्हें मिल के पास एक खाली मैदान में धरना देने को कहा गया था। धरने में केवल अकाली नेता व वर्कर ही दिखाई दिए जबकि क्षेत्र के किसान लगातार शूगर मिल में गन्ने की फसल लेकर जाते रहे।धरने को संबोधित करते हुए सुखबीर ने कहा कि सरकार ने गन्ने की पेमेंट रोकी हुई है, इसलिए रुकी पेमेंट पर 18 फीसद ब्याज दे।

 वहीं, उन्होंने चमकौर साहिब से विधायक व कैबिनेट मंत्री चरनजीतचन्नी पर निशाना साधते कहा कि 'आ तुहाडे इलाके दा मंत्री पता नी केड़े कम्मां विच पै गया होआ।' सुखबीर ने कहा कि कांग्रेस सरकार दो साल बाद भी चुनावी वादों को पूरा नहीं कर पाई है। कहा कि कैप्टन सरकार ने पिछले साल का करोड़ों का किसानों के गन्ने का बकाया अभी तक जारी नहीं किया है, जिसमें से 30 करोड़ केवल मो¨रडा मिल का है। उन्होंने मांग की कि पंजाब में गन्ने का मूल्य 350 रुपये ¨क्वटल होना चाहिए। धरने में सखबीर सिंह बादल सहित अकाली दल के करीब सभी बड़े नेता मौजूद थे। ये रहे मौजूदपूर्व मंत्री सिकंदर सिंह मलूका, पूर्व एसजीपीसी अध्यक्ष बीबी जागीर कौर, पूर्व मंत्री बीबी म¨हदर कौर जोश, विधायक पवन कुमार टीनू, फिल्लौर से विधायक बलदेव सिंह खैहरा, विधायक गुरप्रताप सिंह वडाला, सीनियर अकाली नेता सोहन सिंह ठंडल, बलजीत सिंह नीलामहल, सेठ सतपाल मल्ल, सरबजोत ¨सिंह साबी, जत्थेदार बंता सिंह बुट्टर सहित दोआबा की सभी सीनियर नेता मौजूद थे। झलकियां- 10 बजे का टाइम था धरने का 12 बजे हुआ शुरू। 

ढाई बजे धरना खत्म

- अकाली दल के धरने में किसान कम अकाली वर्कर ही थे शामिल।

- धरने में अकाली दल के झंडे बांटने गए अकाली वर्करों के हाथ मे ही रह गए झंडे। लोगों ने झंडे पकड़ने से किया इनकार।

- सुखबीर ने अपने संबोधन में किसानों की बात कम अपनी सरकार की उपलब्धियां ज्यादा गिनाई। यूथ कांग्रेस ने सुखबीर को दिखाई काली झंडियां

धरने में पहुंचे सुखबीर बादल को यूथ कांग्रेस ने काली झंडियां दिखाई। यूथ कांग्रेस प्रधान अश्वन भल्ला के नेतृत्व में जमा हुए वर्करों ने सुखबीर बादल का विरोध किया। हालांकि बुल्लोवाल रोड पर पुलिस ने यूथ कांग्रेसियों को रास्ते में ही रोक लिया लेकिन शहीद भगत सिंह चौक के पास भल्ला खुद काली झंडियों के साथ खड़े रहे। भल्ला ने कहा कि सुखबीर बादल सिवाय राजनीतिक के और कुछ नहीं कर रहे। सहकारी मिल किसानों को राहत दे रही है जबकि सुखबीर अपनी झूठी राजनीति को चमकाने का प्रयास कर रहे हैं। मौके पर हनी जोशी, मनमीतसिंह विक्की, बूटा सिंह टीटू, मेहुल बांसल, जस्स जंडू¨सघा, हैप्पी माणकराय, विक्की शर्मा, रिशव शर्मा, सुखदीवप सिंह, दमन कुराला, मल्ली जैमलपुर, गुरवीर ढिल्लों, राजा भोगपुर, रमनदीप, कमलजीत, डेनियल, हरमीत सिंह, राजन शर्मा, दविंदर सिंह  , रिक्की मदारा, सुक्खा लेसड़ीवाल मौजूद थे।