BREAKING NEWS

image caption:

विधवा बजुर्ग महिला की रोजी रोटी चला रही दूकान पर कब्ज़ा करवाया शशि शर्मा ने

Date : 2018-12-05 01:36:00 PM

जालंधर-(रवि गिल,साहिल मल्होत्रा)-लोगो की प्रॉपर्टी पर कब्ज़ा करने वाला शशि शर्मा बजुर्ग औरतों पर भी तरस नहीं खाता था,जिस ने चौंक सुदा में एक विधवा बजुर्ग महिला की रोजी रोटी चला रही दूकान पर कब्ज़ा करवा रखा है,माननीय कोर्ट ने महिला के हक़ में फैसला भी सुना दिया पर शशि शर्मा ने यहाँ पर नया पन्गा खड़ा कर दिया ,जबकि पुलिस ने भी कोर्ट का नोटिस होने के बाद भी कब्ज़ा हटाने के लिए शाहसि शर्मा को फाॅर्स नहीं किया,शशि के दर से अपना शहर छोड़ अबोहर रह रही औरत विधवा पूनम सूरी पत्नी स्व. विजय सूरी ने बताया के उनके पति सुदा चौंक में कालीरो की दूकान चलाते थे,बीमार होने के कारन काफी साल पहले उनकी मौत हो गई थी ,मौत होने के कारन दूकान बंद हो गई,उन्हों ने दूकान को किराये पर देने को सोची ,घर की किश्त जाने के कारन घर में कोई कमाई का साधन होना ज़रूरी था,किसी जानकार ने शशि के करीबी विजय कुमार धर्मा पुत्र करम चाँद वासी मोटा सिंह नगर से मिलवाया,विजय से बात चीत करने पर उनको शक हुआ तो उन्हों ने दूकान देने से मना कर दिया,

विजय ने जकीन  दिलाने के लिए अपने बचो की कसम भी कहा ली ,के जैसे ही वो दूकान ले रहा है ,उनके कहने पर वो दूकान छोड़ भी देगा,विश्वास पर उन्हों ने दूकान विजय को किराए पर दे दी ,और 2000 रूपए महीना में बात पक्की कर दी गई,कुछ महीने बाद विजय ने कराया काम कर के 1500  रूपए भी कर दिया ,उसने कुछ महीनो तक वो कराया दिया पर बाद में किराया  देना बंद कर दिया,जब भी उस का बेटा बस स्टैंड के पास स्थित ऑफिस में किराया लेने जाता तो उसे धमकिया दी जाती,आरोप है के विजय के साथ शशि भी मिला और शशि शर्मा ने भी उनको धमकाया,उन्हों ने शशि को अपने घर पूरी मंडी हालत के बारे में बताया,पर नशे में चूर शशि ने उनकी एक बात न सुनी,और उन पर तरस भी नहीं खाया,औरत ने बताया के वो अपने बेटे को ले कर थाना 2  में रिपोर्ट लिखवाने भी गई ,पर वह के SHO ने साडी बात सुनने के बाद शशि शर्मा को कॉल कर दी और शिकायतकर्ता के सामने शशि से हस हस कर बातें करने लगा,और बाद में उन्हें वहाँ से भेज दिया,पूनम के अनुसार जब कोर्ट का फैसला उनके हक़ में आया तो थाना 2 के प्रभारी ने फाॅर्स को उनके साथ भेजने से मना कर दिया,उसके बाद भी शशि ने उनको भट धमकाया,जिस की वजह से वो शहर छोड़ कर अपने बेटे के साथ अबोहर चली गई,