image caption:

मिशेल को भारत लाने से डरा माल्या, बैंक का पैसा चुकाने को तैयार

Date : 2018-12-05 11:31:00 AM

शराब कारोबारी और देश के भगोड़े विजय माल्य के ब्रिटेन से भारत प्रत्यर्पण के मामले में 10 दिसंबर को यूके की अदालत फैसला सुना सकती है। इस फैसले के आने से 5 दिन पहले विजय माल्या ने कहा है कि वो बैंकों का पूरा कर्ज चुकाने के लिए तैयार है। विजय माल्या ने ट्वीट कर भारतीय बैंकों और सरकार से अपील की है कि उसना प्रस्ताव मान लिया जाए। माल्या पर भारतीय बैंकों के 9,000 करोड़ रुपए बकाया हैं।विजय माल्या ने कहा है कि जो भी ऋण उन्होंने विभिन्न बैंकों से लिया है वह उसे वापस करने के लिए तैयार हैं। हालांकि विजय माल्या ने बैंकों को ब्याज देने से मना कर दिया है।


 विजय माल्या ने कहा कि इसके लिए उन्होंने कर्नाटक हाईकोर्ट में भी अपील की है लेकिन उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। माल्या के खिलाफ धोखाधड़ी और मनीलॉन्डरिंग की जांच चल रही है।साथ ही विजय माल्या ने कहा कि वह अपराधी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें भारत में अपराधी माना जा रहा है, तीन दशक तक किंगफिशर ने भारत में कारोबार किया है। इस दौरान उन्होंने कई राज्यों की मदद भी की है। उन्होंने कहा कि किंगफिशर एयरालाइंस के लगातार घाटे में जाने से उन्हें दुख है। वह सभी बैंकों का मूलधन देने के लिए तैयार हैं लेकिन ब्याज नहीं दे सकते। बैंकों को इसे लेना चाहिए। आपको बता दें फिलहाल लंदन में रह रहे विज्य माल्या के भारत में प्रत्यर्पण के लिए वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनावई चर लही है। उनपर भारतीय बैंकों का 9 हाजर करोड़ का बकाया है।