BREAKING NEWS

image caption:

एचयूएल ने खरीदा जीएसके का भारतीय बिजनस, देश में एफएमसीजी सेक्टर की सबसे बड़ी डील पूरी

Date : 2018-12-03 03:15:00 PM

देश की सबसे बड़ी कन्ज्यूमर गुड्स कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर लि. (एचयूएल) ने हॉर्लिक्स बनाने वाली कंपनी ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन (जीएसके) कन्ज्यूमर इंडिया के अधिग्रहण का ऐलान किया। इसके लिए एचयूएल को 31 हजार 700 करोड़ रुपये चुकाने होंगे। यह देश के कन्ज्यूमर गुड्स मार्केट की सबसे बड़ी डील है। इस डील में जीएसके कन्ज्यूमर इंडिया के प्रत्येक शेयर के मुकाबले एचयूएल के 4.39 शेयर रखे गए। अब जीएसके के न्यूट्रिशन बिजनस के पूरे ऑपरेशन के साथ-साथ उसके सेंसोडाइन जैसे ओरल केयर ब्रैंड्स और ईनो, क्रॉसीन समेत तमाम ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) का डिस्ट्रीब्यूशन कॉन्ट्रैक्ट भी एचयूएल के अधीन आ गया। 

एचयूएल के चेयरमैन संजीव मेहता ने कहा, 'जीएसकेसीएच इंडिया के साथ प्रस्तावित रणनीतिक विलय के साथ ही हम अपना पोर्टफोलियो नई कैटिगरी के बड़े ब्रैंड्स में बढ़ाएंगे ताकि अपने ग्राहकों की पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा कर सकें।' उन्होंने आगे कहा, 'हमारा फूड एवं रीफ्रेशमेंट बिजनस बढ़कर 10 हजार करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा और हम देश में इस क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार होंगे।' गौरतलब है कि हॉर्लिक्स प्रथम विश्वयुद्ध (1914-18) की समाप्ति के बाद ब्रिटिश आर्मी के साथ भारत आया था। ब्रिटिश इंडियन आर्मी के सैनिक इसे डायटरी सप्लीमेंट के तौर पर लिया करते थे। उसके बाद इस ब्रैंड की मार्केटिंग समृद्ध भारतीय परिवारों के पेय पदार्थ के रूप में किया गया और फिर इसे बच्चों के लिए जरूरी पोषण के तौर पर पेश किया जाने लगा।