BREAKING NEWS

image caption:

पंजाब की स्पेशल टास्क फोर्स ने तस्करों पर शिकंजा कसने के लिए किया नया प्लान तैयार

Date : 2018-11-28 11:33:00 AM

जालंधर-(रवि गिल,साहिल मल्होत्रा)-पंजाब की स्पेशल टास्क फोर्स ने तस्करों पर शिकंजा कसने के लिए नया प्लान तैयार किया है। इसके तहत ऐसे 62 तस्करों को आइडेंटिफाई किया गया है, जो अप्रत्यक्ष रूप से नशीले पदार्थों की तस्करी नहीं करते, लेकिन वो इस धंधे से जुड़े हैं।ऐसे तस्करों को NDPS एक्ट के तहत हिरासत में लेकर डिटेन किया जाएगा और एक साल तक बिना किसी एफआईआर के जेल में बंद रखा जाएगा। यह प्रावधान एनडीपीएस एक्ट के तहत है। इसके अलावा जेलों में बंद जो सजायाफ्ता तस्कर पैरोल आदि लेकर गए, लेकिन वापस नहीं आए, उनके खिलाफ जेल से भागने की कार्रवाई करते हुए उनकी प्राॅपर्टी जब्त करने का फैसला लिया गया है।ऐसे मामलों में  ढील बरतने वाले जांच अधिकारियों को भी सीधे डिसमिस किया जाएगा। एसटीएफ के चीफ डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा बताया कि अब एनडीपीएस एक्ट के तहत पुलिस थानों में जितने भी केस दर्ज होंगे, उनकी जांच की मॉनीटरिंग एसटीएफ ही करेगी। एनडीपीएस एक्ट के मामलों में जो जांच अधिकारी समय पर कोर्ट में चालान पेश नहीं करेगा, उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। समय पर चालान पेश न करने पर कोर्ट से आरोपी को बेल मिल जाती है और मुजरिम बच जाता है। एनडीपीएस एक्ट के 682 मामलों में 725 आरोपी अब तक समय पर चालान पेश न करने के कारण बेल पा चुके हैं।उनकी बेल रद्द कराने के लिए अब कोर्ट में दोबारा अर्जी दी जाएगी। मुजरिमों को बचने में मदद करने के पीछे जिन पुलिस मुलाजिमों की भूमिका सामने आएगी, उन पर भी सख्त कार्रवाई होगी। इसके अलावा अब एनडीपीएस एक्ट के तहत जो भी तस्कर पकड़ा जाएगा, पहले उसकी प्राॅपर्टी अटैच की जाएगी।