BREAKING NEWS

image caption:

नाबालिग गर्लफ्रेंड को दुल्हन बनाने की चाहत में एक युवक बन बैठा लुटेरा

Date : 2018-11-26 11:26:00 AM

जालंधर-(रवि गिल,साहिल मल्होत्रा)- नाबालिग गर्लफ्रेंड को दुल्हन बनाने की चाहत में एक युवक लुटेरा बन बैठा। उसने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर एक युवक को लूटा। फिर उस राशि से घर बसाने के लिए अपने उन्हीं दोस्तों और गर्लफ्रेंड के साथ उसकी सहेली को भी बहला फुसलाकर ले गया। उन्हें पता नहीं था कि लूटपाट करते वक्त वे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे। पहचान होने पर पुलिस ने उनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस करते तीनों को गिरफ्तार कर लिया और दोनों किशोरियों को मुक्त करा लिया।थाना लांबड़ा के एसएचओ पुष्प बाली ने बताया कि कुलविंदर कुमार निवासी हुसैनपुर 21 नवंबर दोपहर तीन बजे अपनी बेटी खुशी को सेंट भारिगो स्कूल से वापस लेकर आ रहा था। वंडरलैंड के पास तीन युवकों ने अपनी बाइक उसके आगे लगाकर उसे रोक लिया। तीनों ने मारपीट कर उसका पर्स छीन लिया, जिसमें 7 हजार रुपये, आधार कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस था। लूट को अंजाम देकर तीनों फरार हो गए। केस दर्ज करने के बाद पुलिस ने जांच शुरू की पता चला कि लूट की घटना पास की एक दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। 


फुटेज के आधार पर पुलिस ने आरोपितों की पहचान कर ली। फिर उनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस कर तीनों आरोपितों को चिट्टी मोड़ के पास गिरफ्तार कर लिया गया। उनकी पहचान बिलगा के रहने वाले अमनदीप उर्फ बंटी, बलदीश उर्फ बबलू और सतनाम उर्फ सत्ती के रूप में हुई है।अमनप्रीत ने दसवीं में पढ़ने वाली एक नाबालिग को अपने प्रेम जाल में फंसा रखा था। शादी का झांसा देकर उसे घर से भागने के लिए कहा। अमनप्रीत की गर्लफ्रेंड ने अपनी एक अन्य सहपाठी छात्रा को भी भागने के लिए तैयार कर लिया था। अमनदीप ने दोनों को 21 नवंबर को स्कूल से भागकर नकोदर बस अड्डे पर उनका इंतजार करने कहा था। अमनदीप ने अपनी गर्लफ्रेंड को बताया था कि वह पैसों का इंतजाम करके पहुंचेगा। नकोदर बस अड्डे की तरफ जाते वक्त रास्ते में उन्हें कुलविंदर सिंह मिल गया। तीनों ने मारपीट कर उससे उसका पर्स लूट लिया। वारदात के बाद तीनों नकोदर बस अड्डे से दोनों लड़कियों को लेकर फरार हो गए। नाबालिगों को भगा ले जाने के मामले में थाना बिलगा में पुलिस ने अपहरण के मामले में अलग केस दर्ज किया था। आरोपित पुलिस के चंगुल में फंसे तो दोनों ही मामले सुलझ गए।