BREAKING NEWS

image caption:

65 फीट ऊंचा मूल मंत्र स्थान बनेगा सुल्तानपुर लोधी में

Date : 2018-11-21 11:47:00 AM

अमृतसर-(21-11-2018)-श्री गुरु नानक देव जी ने सुल्तानपुर लोधी में अपने जीवन के 14 साल व्यतीत किए। इसी जगह पर ही उन्होंने मानवता काे मूल मंत्र के उपदेश के साथ जोड़ते हुए न कोई हिंदू न कोई मुसलमान का संदेश दिया। शिराेमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी गुरु साहिब के 550वें प्रकाश पर्व को यादगार बनाने के लिए विशाल स्थान तैयार करवा रही है जिसको मूल मंत्र के नाम से जाना जाएगा। मूल मंत्र स्थान बनाने की जिम्मेदारी गुरु नानक निष्काम सेवक जत्था बर्मिंघम के मुखी भाई महिंदर सिंह को सौंपी गई है। वह इसकी कारसेवा बाबा लाभ सिंह किला आनंदगढ़ साहिब के सहयोग से करवा रहे हैं। कारसेवा अक्टूबर में शुरू हो चुकी है और इस स्थान को नवंबर 2019 से पहले पूरा करने की योजना है। यहां संगत को गुरु साहिब के जीवन व शिक्षाओं की जानकारी मिलेगी। 


आधुनिक तकनीक से तैयार इस प्रोजेक्ट में गुरु साहिब की यात्राओं के बारे डिटेल में दर्शाया जाएगा।  दो एकड़ में 65 फीट का मूल मंत्र स्थान चार मंजिला होगा। जमीनी मंजिल की ऊंचाई 26 फीट और अन्य की 13-13 फीट होगी। इस को सहारा देने के लिए 13 डाट होंगे। इस स्थान के बरामदे 13 फीट जगह में पानी प्रवाहित किया जाएगा। स्थान के अंदर भी 20 फीट के घेरे में पानी चलेगा। एसजीपीसी के चीफ सेक्रेटरी डॉ. रूप सिंह ने बताया कि यहां छोड़े जाने वाले पानी का प्रबंध पवित्र बेईं से किया जाएगा। यहां से घूमते हुए यह पानी वापस बेईं में ही चला जाएगा। मूल मंत्र की इमारत में 16 गैलरियां बनेंगी जिनके बीचों-बीच गोलाकार इमारत के ऊपरी हिस्से तक खुली जगह में खूबसूरत लाइट्स लगाने की योजना है। दो सीढिय़ों के साथ-साथ एक लिफ्ट का प्रबंध होगा। इमारत के आसपास एक बाग का निर्माण किया जाएगा, जिसमें अाने-जाने के लिए 13 रास्ते बनाए जाएंगे।