BREAKING NEWS

image caption:

PNB घोटाले में ईडी को मिली बड़ी कामयाबी, मेहुल चोकसी का करीबी दीपक कुलकर्णी एयरपोर्ट से गिरफ्तार

Date : 2018-11-06 11:27:00 AM

नई दिल्ली-(06-11-2018)-देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले में ईडी को बड़ी कामयाबी मिली है। प्रवर्तन निदेशालय ने पीएनबी घोटाले में भगोड़े नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के करीबी दीपक कृष्ण राव कुलकर्णी को कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया है। दीपक कृष्ण को उस वक्त गिरफ्तार किया गया जब वो हांग कांग से वापस लौट रहा था। इमिग्रेशन अधिकारियों ने दीपक को गिरफ्तारकर  ईडी को सौंप दिया है। दीपक कृष्ण पर  लुकआउट नोटिस जारी था। इसी वजह से उसे एयरपोर्ट पर रोका गया। बताया जा रहा है कि दीपक कृष्ण देश से बाहर भागने की फिराक में था।कुलकर्णी चोकसी की हांग कांग में चलाई जा रही फर्जी कंपनी का निदेशक है। उसके खिलाफ सीबीआई और ईडी ने पहले से ही लुक आउट नोटिस जारी किया हुआ था। इससे पहले 31 अक्तूबर को मेहुल चोकसी ने कहा था कि मैं बीमार हूं और इस वजह से 41 घंटे लंबी यात्रा करके नहीं आ सकता।


 यह कारण बताते हुए फरार हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने अदालत के सामने ईडी की तरफ से उसे भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने का विरोध जताया था। अदालत ने इस मामले में ईडी को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 17 नवंबर को होनी है।आपको बता दें कि बीते मंगलवार को चोकसी की तरफ से मनी लांड्रिंग एक्ट की विशेष अदालत में दाखिल किए गए 10 में से एक प्रार्थना पत्र में उसने कहा था कि वह दिमाग में खून का थक्का होने व स्वास्थ्य से जुड़े अन्य कारणों के कारण 41 घंटे लंबी यात्रा करते हुए भारत नहीं आ सकता है। चोकसी ने यह प्रार्थना पत्र अपने वकील संजय अबाट के जरिए जज एमएस आजमी के सामने दाखिल किए थे, जिसमें उसका मुख्य जोर अपने खिलाफ ईडी की तरफ से भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम के तहत दाखिल शिकायत को स्वास्थ्य कारणों से खारिज कराने पर था। चोकसी ने अपने प्रार्थना पत्र में लिखा था कि वह 2012 से दिमाग में खून के थक्के से पीड़ित है और उसे पिछले 20 साल से मधुमेह की भी शिकायत है। इसके अलावा उसे दिल की भी कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। इतनी सारी परेशानियों के कारण उसने खुद को 41 घंटे लंबी हवाई यात्रा करने लायक नहीं बताया था।