BREAKING NEWS

image caption:

भीख मांगकर लखपति बन गई सास,बहुओं ने किया बेदखल

Date : 2018-11-05 05:12:00 PM

हैदराबाद-(05-11-2018)-आंध्र प्रदेश के नालगोंडा स्थित मिरयालगुडा में एक बुजुर्ग महिला को उनके परिवारवालों ने नजरंदाज कर दिया, जिसकी वजह से उन्होंने भीख मांगना शुरू कर दिया। पुलिस को महिला की तलाशी के दौरान काफी पैसा मिला, जिसे देखकर उनके होश फाख्ता हो गए। बुढ़ापे में उनके परिवारवालों ने उन्हें नजरंदाज करना शुरू कर दिया था। परिवारवालों को उनकी संपत्ति तो चाहिए थी लेकिन वह उन्हें साथ नहीं रखना चाहते थे। इसकी वजह से बुजुर्ग महिला को घर छोड़ना पड़ा, जिसके बाद वह भीख मांगने को मजबूर हो गईं। वह अपनी कमाई बचाती रहीं, जिसकी वजह से उनके पास काफी पैसा इकट्ठा हो गया। एक दिन पुलिस सभी भिखारियों की तलाशी ले रही थी तभी वह इतना सारा पैसा देखकर हैरान रह गए और महिला से पूछताछ की। इसके बाद महिला ने पुलिस को पूरा मामला बताया और रकम को बैंक में जमा करा दिया। पेंतम्मा नाम की महिला आंध्र प्रदेश के नालगोंडा स्थित मिरयालगुडा की रहने वाली हैं। उनके दो बेटे भी हैं। पेंतम्मा के पति की मौत के बाद वह पूरी तरह से अपने बेटों पर आश्रित हो गईं। 


उनके पास कुछ जमीन थी, जिसे उन्होंने बेच दिया और इसके एवज में उन्हें दो लाख रुपये मिले। बुजुर्ग महिला ने एक लाख रुपये अपने बेटों को दे दिया और एक लाख रुपये अपने पास रख लिया था। कुछ वक्त बाद एक बेटे की मौत हो गई और दूसरा घर छोड़कर भाग निकला। उनकी बहुओं ने उन्हें नजरंदाज करना शुरू कर दिया, वह उन्हें भूखा रखने लगीं। इसकी वजह से मजबूर पेंतम्मा ने घर छोड़ दिया और वह हैदराबाद पहुंच गईं। बुढ़ापे की वजह से वह कोई काम करने में सक्षम नहीं थीं। मजबूरन पेंतम्मा अपना पेट भरने के लिए भीख मांगने लगीं। वह 2011 से मूसारामबाग टीवी टॉवर पर रह रही थीं। पुलिस ने जीएचएमसी अधिकारियों के साथ रविवार को तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने महिला की भी तलाशी ली, जिसमें उन्हें तीन से चार कवर मिले। थैलों के अंदर भरी हुई नकदी को देखकर पुलिसकर्मियों के होश फाख्ता हो गए। महिला के पास कुल 2 लाख 34 हजार तीन सौ बीस रुपये मिले हैं। नकदी के इतर महिला के पास से एक गोल्ड चेन, चांदी के आभूषण भी मिले हैं। इसके बाद बुजुर्ग से पुलिस ने पूछताछ की तो महिला ने सारी हकीकत बयां की। पुलिस ने बताया कि उन्हें उनके गांव भेजने की बात कही गई लेकिन महिला ने वहां जाने से इनकार कर दिया। पुलिस ने इसके बाद महिला का एसबीआई में बैंक अकाउंट खुलवाया और वहां पैसा जमा करा दिए। यही नहीं, पुलिसकर्मियों ने महिला को पुनर्वास केंद्र में भेज दिया।