BREAKING NEWS

image caption:

प्रशासन की ढील का नतीजा जिले के ट्रैवल एजैंटों को पड़ रहा है भुगतना

Date : 2018-11-01 01:02:00 PM

जालंधर//(रवि गिल ,जीवेश शेर गिल)- जालंधर प्रशासन की ढील का नतीजा जिले के ट्रैवल एजैंटों को भुगतना पड़ रहा है। कारण यह है कि प्रशासन अपनी वैबसाइट रैगुलर अपडेट नहीं कर रहा। मामले बारे कई ट्रैवल कारोबारियों ने बताया कि उन्होंने प्रशासन से लाइसैंस भी ले लिया है पर उनका नाम आज तक जिला प्रशासन की वैबसाइट पर अपडेट नहीं किया गया। जानकारी के अनुसार अब तक जिला प्रशासन की ओर से 600 से ’यादा ट्रैवल कारोबारियों को लाइसैंस जारी किए जा चुके हैं 



पर प्रशासन की वैबसाइट पर सिर्फ 287 ट्रैवल कारोबारियों के नाम ही अपलोड किए गए हैं। मामले बारे ट्रैवल एजैंटों की संस्था एकोस के प्रधान हरदीप सिंह का कहना है कि एक ओर तो प्रशासन लोगों को जागरूक कर रहा है कि रजिस्टर्ड एजैंटों के पास ही जाओ और उनके नाम वैबसाइट से पढ़कर जाओ। |वहीं दूसरी और  वैबसाइट पर नाम अपडेट न होने के कारण जिन ट्रैवल एजैंटों के नाम वैबसाइट पर नहीं डाले गए, उनके कारोबार पर इसका बुरा असर पड़ रहा है। वहीं, दूसरी और डिप्टी कमिश्नर वरिंद्र शर्मा ने कहा कि ट्रैवल कारोबारियों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं आने दी जाएगी। जल्द ही वैबसाइट पर सारे लाइसैंस होल्डर ट्रैवल कारोबारियों के नाम अपडेट किए जाएंगे।