BREAKING NEWS

image caption:

राफेल डील मामले में दायर याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

Date : 2018-10-31 01:16:00 PM

 राफेल डील मामले में दायर याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी एडवोकेट एमएल शर्मा, विनीत धांडा पूर्व केंद्रीय मंत्रियों यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, सीनियर एडवोकेट प्रशांत भूषण और आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने इस मामले में कोर्ट में याचिका दी है। इन सभी याचिकाओं पर कोर्ट में आज सुनवाई होनी है। एडवोकेट एम एल शर्मा और विनीत ढांडा की दो जनहित याचिकाओं पर कोर्ट ने 10 अक्टूबर को केंद्र को सीलबंद लिफाफे में ये जानकारी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था कि राफेल डील को कैसे अंजाम दिया गया।  सरकार ने 27 अक्टूबर को लिफाफा कोर्ट में जमा करा दिया था।सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ  इस मामले की अहम सुनवाई करेगी। पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार ने राफ़ेल ख़रीद सौदे की निर्णय प्रक्रिया सील बंद लिफ़ाफ़े में कोर्ट में दाखिल की थी। 



केंद्र सरकार ने 3 सीलबंद लिफाफे में डील की जानकारी सुप्रीम कोर्ट को सौंपी थी। दरअसल, पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि हम राफेल की प्रक्रिया इसलिए पूछ रहे हैं, ताकि हम खुद को संतुष्ट कर सके और केंद्र को हम नोटिस जारी नहीं कर रहे हैं, बल्कि प्रक्रिया का विवरण मांग रहे हैं।राफेल समझौते के विवरण सील बंद लिफाफे में अदालत को सौंपने की मांग संबंधी जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कर रहा था। इस याचिका में राफेल सौदे पर रोक लगाने की मांग की गई है। CJI जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ के समक्ष नईयाचिका अधिवक्ता विनीत धांडे ने दायर की थी। इस याचिका में कहा गया था कि सौदे को लेकर आलोचना का स्तर निम्नतम हो गया है और देश के प्रधानमंत्री की आलोचना करने के लिए विपक्षी पार्टियां अपमानजनक और अभद्र तरीके अपना रही हैं।आपको बता दें कि राफेल डील में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए विरोधी मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। हालांकि कोर्ट ने राफेल की कीमत की जानकारी नहीं मांगी बल्कि फ्रांस के साथ सौदे के लिए क्या अपनाई गई प्रक्रिया की जानकारी मांगी है।