BREAKING NEWS

image caption:

शादी के बाद पति की जाति पता लगने पर दर्ज कराई FIR

Date : 2018-10-26 06:42:00 PM

गुजरात के मेहसाणा में एक 23 साल की महिला ने अपने पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। दरअसल, महिला का आरोप है कि पति ने शादी से पहले अपनी जाति छिपाते हुए खुद को ब्राह्मण बताया था। महिला ने इस मामले में पति पर भरोसा तोड़ने का आपराधिक केस दर्ज कराया है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़ित एकता पटेल मेहसाणा जिले के बेचराजी तालुका के आदिवाड़ा गांव की रहने वाली हैं। शाहपुर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई शिकायत में उन्होंने कहा कि 23 अप्रैल को जिस शख्स से उनकी शादी हुई, उसने अपना सरनेम मेहता बताते हुए कहा कि वह एक ब्राह्मण है। शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के कुछ समय बाद महिला को पता चला कि पति का सरनेम खमार है और वह ब्राह्मण नहीं हैं।

बता दें कि एकता पटेल का कहना है, 'पिछले साल अप्रैल में एम कॉम की पढ़ाई पूरी करने के बाद मुझे जॉब की सख्त जरूरत थी। मेरे परिवार की आर्थिक स्थित अच्छी नहीं थी। उस दौरान मैंने एक गैस एजेंसी में खाली अकाउंटेंट की पोस्ट के लिए अप्लाई किया। फर्म की मालिक ज्योत्सना मेहता ने मुझे 5000 रुपये महीने की सैलरी पर नियुक्त किया। इसी दौरान मैं ज्योत्सना के पुत्र यश के संपर्क में आई। यश ने मुझे बताया कि वे ब्राह्मण हैं।वहीं आपको बता दें कि मीडिया से बात करते हुए पीड़ित एकता ने आगे बताया, 'एक-दूसरे से मुलाकातें बढ़ने के साथ हमें प्यार हो गया। मैंने उनसे शादी का फैसला किया क्योंकि वह भी मेरी तरह सवर्ण (उच्च जाति) थे। इस साल 23 अप्रैल को हिंदू रीति-रिवाज से खानपुर के स्टर्लिंग सेंटर में एक पुजारी की मौजूदगी में शादी रचाई। बाद में हमने मैरिज रजिस्ट्रार एएमसी शाहपुर के दफ्तर में शादी का रजिस्ट्रेशन कराया।'