BREAKING NEWS

image caption:

CBI चीफ को हटाने से पीएम को कोई फायदा नहीं होगा

Date : 2018-10-26 04:59:00 PM

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के अंदरखाने के विवाद पर अब सियासी संग्राम छिड़ा है। कांग्रेस ने शुक्रवार को इस विवाद को राफेल डील से जोड़कर देशभर के सीबीआई दफ्तरों पर हल्ला बोला। दिल्ली में मोर्चा खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संभाला। वे कांग्रेस नेताओं के साथ मार्च करते हुए सीबीआई मुख्यालय तक गए और प्रदर्शन किया। पुलिस ने राहुल समेत दूसरे विपक्षी नेताओं को हिरासत में लेकर लोधी रोड पुलिस स्टेशन ले गई, जहां बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। इस दौरान राहुल ने मोदी सरकार पर सीधा हमला बोला और राफेल डील में अंबानी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया। लोधी कॉलोनी पुलिस स्टेशन से बाहर अाने के बाद राहुल गांधी ने कहा, 'पीएम भाग सकते हैं, छिप सकते हैं, लेकिन अंत में सच सामने आएगा। सीबीआई चीफ को हटाने से कोई फायदा नहीं होगा। पीएम ने सीबीआई चीफ के खिलाफ ऐक्शन लिया, यह जल्दबाजी में की गई कार्रवाई थी।


राहुल गांधी ने कहा कि राफेल सौदे की जांच से बचने के लिए रातोंरात सीबीआई डायरेक्टर को हटाया गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘चौकीदार’ को ‘चोरी’ नहीं करने देगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'हिंदुस्तान के हर इंस्टिट्यूशन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आक्रमण कर रहे हैं। नरेंद्र मोदी ने अनिल अंबानी की जेब में पैसा डाला है।' राहुल ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा की बहाली की मांग करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मुद्दे पर माफी मांगने को कहा।दिल्ली में राहुल गांधी के नेतृत्व में सीबीआई के हेडक्वॉर्टर पर प्रदर्शन के अलावा उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हरियाणा समेत अन्य जगहों पर भी सीबीआई दफ्तर के सामने प्रदर्शन किए गए। कांग्रेस के इस प्रदर्शन को विपक्ष का भी साथ मिलता दिखाई दिया। कांग्रेस के अलावा टीएमसी और सीपीआई के नेता भी प्रदर्शन में शामिल हुए। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने दयाल सिंह कॉलेज से मार्च शुरू किया। सीबीआई की तरफ जाने वाले रास्ते को पुलिस ने बंद कर दिया था। राहुल गांधी के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत, आनंद शर्मा, अहमद पटेल, दीपेंदर हुड्डा के अलावा टीएमसी सांसद हक, शरद यादव और सीपीआई नेता डी राजा भी मार्च में शामिल हुए। यूपी में कांग्रेस के प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने किया। कांग्रेस ने महाराष्ट्र, कर्नाटक समेत देशव्यापी स्तर पर सीबीआई दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया है।कांग्रेस के प्रदर्शन पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस के पास जनहित का मुद्दा नहीं बचा है इसलिए वह देश को गुमराह कर रही है। राजनाथ ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है, अथॉरिटी जांच कर रही है, जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा करनी चाहिए।