BREAKING NEWS

image caption:

यूसुफ रफीक भट्ट को सिविल अस्पताल से मिली छुट्टी

Date : 2018-10-26 03:44:00 PM

जालंधर//( रवि गिल ,सुशिल हंस )-आतंकी यूसुफ रफीक भट्ट को शुक्रवार दोपहर सिविल अस्पताल से छुट्टी मिल गर्इ। आतंकि यूसुफ गत 9 दिनों से डेंगू से पीड़ित था और उसके प्लेटेल सैल करीब 93 हजार थे जो बढ़कर आज 1 लाख 98   हजार तक पहुंच चुके है। इस दौरान कड़ी सुरक्षा के बीच आज उसे अस्पताल से जेल ले जाया गया।आतंकी यूसुफ रफीक भट्ट की उसके पिता मोहम्मद रफी के साथ आखिरकार मुलाकात हो ही गई। कपूरथला जेल के डिप्टी सुपरिंटैंडैंट से परमिशन लेकर उसका पिता मोहम्मद रफी आज सिविल अस्पताल स्थित कैदी वार्ड के बाहर दोपहर करीब 1.40 पर पहुंचा और सुरक्षा कर्मचारियों को परमिशन दिखाई। पुलिस जवानों ने रफी की तलाशी लेने के बाद उसे भीतर बेटे से मिलने दिया। जेल अधिकारियों ने 20 मिनट की परमिशन दी थी लेकिन वह 10 मिनट में ही बेटे को मिलकर बाहर आ गया। वहीं रफीक के प्लेटलैट्स सैल 1 लाख 61 हजार के करीब हो चुके हैं। आशंका जाहिर की जा रही है कि 26 अक्तूबर को उसे अस्पताल से छुट्टी दी जा सकती है क्योंकि उसकी सेहत अब काफी सुधर चुकी है और वह रोटी, चावल आदि खा रहा है।


 पहले कश्मीरी, फिर हिंदी में हुई बात: आतंकी रफीक को पुलिस की मौजूदगी में पिता से मिलाया गया।रफीक के साथ बातचीत के दौरान उसके पिता मोहम्मद रफी ने पहले कश्मीरी भाषा में बातचीत की और बाद में पुलिस कर्मचारियों ने हिंदी में बात करने को कहा तो रफी ने हिंदी में बेटे से पूछा कि उसका उपचार अस्पताल में ठीक ढंग से हो रहा है या नहीं? जैसे ही बेटे ने कहा कि वह पहले से ठीक है और अस्पताल में उसकी पूरी केयर हो रही है तो उसके पिता की आंखों में आंसू आ गए और वह भावुक होकर बाहर वार्ड से निकल गया। जाते हुए वह बोलकर गया कि अब उसे फिक्र नहीं, बेटा ठीक है। दूसरी ओर पिता की आंखों में आंसू देखकर बाद में रफीक की आंखों से भी आंसू बहने शुरू हो गए। पिता-पुत्र का प्रेम देखकर पुलिस वाले भी थोड़ी देर के लिए भावुक दिखे। दूसरी ओर आतंकी को कपड़े देने के लिए सी.आई.ए. स्टाफ की पुलिस बैग लेकर पहुंची। गार्द में तैनात पुलिस जवानों ने कपड़ों की अ‘छी तरह से चैकिंग करने के बाद ही बैग भीतर जाने दिया।