BREAKING NEWS

image caption:

प्लॉट पर खेलने को लेकर हुए झगड़े में 8 साल के बच्चे की पीट-पीटकर की हत्या

Date : 2018-10-26 11:29:00 AM


नई दिल्ली //(26-10-2018)-दिल्ली के मालवीय नगर में प्लॉट पर खेलने को लेकर हुए झगड़े में 8 साल के बच्चे की पीट-पीटकर हत्या के मामले में पुलिस ने किसी भी ऐंगल होने से इनकार किया है। बता दें कि मदरसे के ठीक सामने खाली पड़े प्लॉट में खेलने को लेकर आसपास रहने वाले चार नाबालिग लड़कों का मदरसे में पढ़ने वाले 5-6 बच्चों से झगड़ा हो गया था। झगड़े के दौरान चारों आरोपी लड़कों ने 8 साल के स्टूडेंट को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी बच्चे मौके से फरार हो गए थे। मदरसे के लोगों ने ही बच्चे को बेहोशी की हालत में इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां पर डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने शुरुआती छानबीन के बाद चारों आरोपी लड़कों को डिटेन कर लिया। सभी लड़कों की उम्र 12 साल बताई जा रही है। डीसीपी साउथ का कहना है कि यह बच्चों के बीच का झगड़ा है। वारदात में इसके अलावा दूसरा कोई ऐंगल नहीं है। मृतक बच्चे का परिवार मूलरूप से हरियाणा के मेवात का रहने वाला है। 


डीसीपी साउथ विजय कुमार ने बताया कि पुलिस को गुरुवार सुबह हॉस्पिटल से कॉल मिली थी कि बेगमपुर स्थित मदरसे में पढ़ने वाले 8 साल के बच्चे को बेहोशी की हालत में यहां लाया गया था। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। शुरुआती छानबीन में पुलिस को पता चला किस मदरसे के ठीक सामने एक खाली प्लॉट पड़ा हुआ है। आसपास रहने वाले बाकी बच्चे इसी प्लॉट में खेलते हैं। गुरुवार सुबह मदरसे में पढ़ने वाले 5-6 बच्चे भी इस प्लॉट में खेलने पहुंच गए। पड़ोस में रहने वाले बच्चों ने मदरसे के बच्चों को वहां खेलने से मना किया। इसी बात को लेकर दोनों ग्रुप के बीच मारपीट शुरू हो गई। आरोप है कि चारों आरोपी लड़कों ने 8 साल के स्टूडेंट को बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया। पिटाई की वजह से वह जमीन पर गिरकर बेहोश हो गया। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। 

किसी ने इस बाबत मदरसे में पढ़ाने वाले स्टाफ को इसकी जानकारी दी। मदरसे के स्टाफ ने ही बच्चे को बेहोशी की हालत में हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां पर डाक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बच्चे के परिजनों को इसकी सूचना दे दी गई है। उनके दिल्ली पहुंचने के बाद ही शव का पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पहली नजर में ऐसा लग रहा है कि मारपीट के दौरान बच्चे के किसी नाजुक अंदरूनी हिस्से में गंभीर चोट लग गई जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने वारदात में शामिल चारों नाबालिग आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। शुरुआती पूछताछ में आरोपी लड़कों ने पुलिस को बताया कि वे नहीं चाहते थे कि मदरसे में पढ़ने वाले बच्चे इस प्लॉट में खेलें।