BREAKING NEWS

image caption:

नगर निगम वसूलेगा तीन करोड़ रुपये किरायेदारों से,किये नोटिस जारी

Date : 2018-10-24 11:38:00 AM

जालंधर//(24-10-2018)- बीते कई सालों से नगर निगम को करीब 90 किरायेदारों से निगम की संपत्ति का किराया नहीं मिला है। निगम प्रशासन के मुताबिक तहबाजारी ब्राच की ओर से 90 डिफाल्टरों को नोटिस जारी किए जा चुके हैं। इसके बावजूद अभी तक अधिकतर किराएदारों ने किराया जमा नहीं कराया है।तहबाजारी ब्राच के सुपरिटेंडेंट मंदीप सिंह ने बताया कि करीब एक महीने पहले डिफाल्टरों को नोटिस जारी किए गए थे। इसमें 45 दुकानदार हैं, जबकि अन्य निगम की विभिन्न संपत्तियों के डिफाल्टर हैं, जिनमें पेट्रोल पंप भी शामिल हैं। नोटिस जारी करने के बाद निगम को करीब 70 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। अभी भी किराएदारों पर तीन करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व बकाया है।


 किरायेदारों की ओर से पैसे न देने पर नगर निगम को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। अगले सप्ताह से सील की जाएगी संपत्तिसुपरिटेंडेंट मंदीप सिंह ने बताया कि निगम का किराया नहीं चुकाने वालों को फाइनल नोटिस भी सर्व कर दिए गए हैं। निगम कमिश्नर की ओर से किराए का भुगतान नहीं करने वालों पर कार्रवाई के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अगले सप्ताह से सीलिंग की कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही नोटिस के बाद की अगली कार्रवाई अमल में लाई जाएगी और किराया न चुकाने वालों पर शिकंजा कसा जाएगा। इंडियन ऑयल को भेजा 44 लाख रुपये का नोटि ससूत्रों से मिली जानकारी मुताबिक पीएपी चौक स्थित इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप से किराए के तौर पर निगम को 44 लाख रुपये वसूलने हैं। मंदीप सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि कंपनी को नोटिस जारी किया गया था। कंपनी अगले कुछ दिनों में पैसे देने की बात कह रही है।