BREAKING NEWS

image caption:

इस मोइन कुरैशी के कारण CBI पड़ी CBI के पीछे

Date : 2018-10-24 11:11:00 AM

नई दिल्ली//(24-10-2018)- एक मीट एक्सपोर्टर की वजह से सीबीआई दफ्तर पर सीबीआई ने छापा मारा। इस मामले में एक अधिकारी गिरफ्तार हो चुका है। कुछ और भी हो सकते हैं। यह मामला इस समय हर किसी की जुबान पर है, लेकिन जिस कारोबारी की वजह से इस मामले की शुरुआत हुई, उसकी कहानी भी कम दिलचस्प नहीं है। उत्तर प्रदेश के रामपुर में रहने वाले मोइन कुरैशी मीट एक्सपोर्टर हैं।मोइन कुरैशी की पढ़ाई दून स्कूल में हुई। दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद उत्तर प्रदेश के रामपुर इलाके में एक छोटा सा बूचड़ खाना खोला। धीरे-धीरे काम बढ़ाना शुरू कर दिया। वह कंस्ट्रक्शन, फैशन जैसे तमाम बिजनेस लेकर आए। 


लेकिन उनकी एएमक्यू एग्रो और एक्सपोर्ट एनिमल गट उनकी फ्लैगशीप कंपनी हैं। उन्होंने 25 से अधिक कंपनियां खोली हुई हैं। कुरैशी ने 1995 में शराब कारोबारी पोंटी चड्ढा से भी हाथ मिला लिया था, लेकिन 2012 में पोंटी चड्ढा की हत्या के बाद उनके बेटे से वह अलग हो गया। मोइन कुरैशी दिल्ली के छतरपुर में घर है, जिसे फेमस फ्रेंच आर्किटैक्ट डिजाइनर जीन लुईस डेनियॉट ने डिजाइन किया है। उनके इस घर की फोटोग्राफ बड़ी फेमस मेगेजिन में भी पब्लिश की थी। वैसे उनके दिल्ली में ही तीन घर हैं।
वीवीआईपी संबंधों के लिए मशहूर मोइन कुरैशी पर कर चोरी और हवाला के जरिए 200 करोड़ रुपए विदेश भेजने का आरोप है। ईडी ने इस मामले में मोइन कुरैशी के खिलाफ मनी लॉड्रिंग एक्‍ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। मीट एक्सपोर्ट मोइन कुरैशी से पूछताछ करने के बाद रिहा कर दिया लेकिन वह बाद में दुबई भाग गए।