BREAKING NEWS

image caption:

9 साल रीढ़ की बीमारी के साथ अब 9500 किमी की रिकॉर्ड दौड़ पर निकला ब्रिटिश रनर

Date : 2018-10-20 06:39:00 PM

 ब्रिटेन के 32 साल के जेमी मैकडोनाल्ड 9500 किलोमीटर की दौड़ पर निकले हैं। जेमी अमेरिका के पश्चिमी तट यानी केप अलवा से वेस्ट कोडी हेड लाइटहाउस स्थित पूर्वी तट तक दौड़ेंगे। जेमी की यह दौड़ 230 मैराथन के बराबर होगी। इसमें से वे अभी तक 115 मैराथन के बराबर दौड़ चुके हैं। जेमी की कहानी काफी दिलचस्प है। नौ साल की उम्र तक उनका ज्यादातर वक्त अस्पताल में ही बीता। उन्हें रीढ़ की हड्डी में बीमारी थी। इम्यून सिस्टम कमजोर था और मिर्गी के दौरे भी पड़ते थे। डॉक्टरों को डर था कि वे शायद ही कभी चल पाएं।9 साल के बाद उनकी बीमारियों के लक्षण काफी कम होने लगे। अब जेमी सुपरहीरो की तरह एक ड्रेस पहनते हैं। उन्होंने बच्चों की मदद के लिए सुपरहीरो फाउंडेशन भी बनाया है। बच्चों के इलाज के लिए जेमी अब तक 36 हजार पाउंड (करीब 35 लाख रुपए) जुटा चुके हैं।


जेमी ने अप्रैल में दौड़ना शुरू किया था। अगले छह महीने में वे इसे पूरा कर लेंगे। जेमी बैंकॉक से ग्लूसेस्टर (इंग्लैंड) तक साइकिल चलाकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज करा चुके हैं। इसके लिए उन्होंने 268 घंटे, 32 मिनट, 40 सेकंड (करीब 11 दिन) का वक्त लिया था।जेमी बताते हैं, "मैंने टेनिस सिखाकर 20 हजार पाउंड (19 लाख रुपए) कमाए। इसके बाद मैंने 50 पाउंड में एक साइकिल खरीदी। मुझे लगता है कि यह सबसे खराब साइकिल होगी। लेकिन इसी से मैंने बैंकॉक से ग्लूसेस्टर तक का 22 हजार 530 किमी का सफर तय किया।''जेमी फिलहाल अमेरिका में दौड़ रहे हैं। इस दौरान वे 50 डिग्री सेल्सियस तापमान से लेकर बाढ़ग्रस्त इलाके और जहरीली मकड़ियों के जंगल के बीच से भी दौड़े।

जेमी कहते हैं कि अगर आप दर्द झेलने की ताकत रखते हैं तो आप सबकुछ कर सकते हैं। पैरों में इतना दर्द होता था कि मैं रोने लगता था। लेकिन यही वो ताकत है जो आपको दर्द से उबारती है।जेमी के मुताबिक, "बारिश के सीजन में दौड़ते वक्त जब बिजली कड़कती है तो लगता है कि यह आप पर ही गिर जाएगी। थोड़ा डर लगता है लेकिन फिर खुद ही उस पर काबू पा लेता हूं।''