image caption:

24 घंटे के भीतर ट्रंप ने दी दूसरी बार धमकी

Date : 2018-10-12 05:08:00 PM

अमेरिकी प्रतिबंधों के साए में भारत का रूस के साथ एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली सौदे और ईरान पर प्रतिबंध के बावजूद तेल खरीदने से अमेरिका बौखलाया हुआ है। भारत के ईरान से तेल खरीदने को लेकर अमेरिका पहले से ही बिफरा हुआ है और अब उसने सख्त कदम उठाने की धमकी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान प्रतिबंध के हवाले से पूरी दुनिया को धमकी देते हुए कहा है कि 4 नवंबर के बाद यदि कोई देश ईरान से कच्चा तेल खरीदता है तो उसके के लिए सख्त से सख्त कदम उठाने के लिए तैयार हैं।

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि 4 नवंबर तक दुनियाभर के देश ईरान से कच्चे तेल का आयात पूरी तरह से बंद करें, वरना उन्हें अमेरिका 'देख लेगा'। ट्रंप ने भारत और चीन को भी चेतावनी देते हुए कहा कि 'हम उन्हें भी देखेंगे'।

बता दें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने साल 2015 में ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका को अलग कर लिया था और उसके बाद ईरान पर प्रतिबंध लगा दिया था। ट्रंप ने ईरान से तेल खरीदने वाले सभी देशों से अपील की है कि वो ईरान से कच्चे तेल का आयात घटाकर शून्य कर लें और अगर ऐसा नहीं किया तो उन देशों पर भी प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

गौरतलब है कि भारत ने हाल ही में रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली की खरीद के लिए 5 अरब डॉलर का सौदा किया है, जिसपर अमेरिका ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई थी। इसके अलावा भारत ने ये भी कहा है कि भारतीय कंपनियां ईरान से तेल खरीदना जारी रखेंगी।

इसस पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि रूसी एयर डिफेंस सिस्टम खरीद से जुड़ा भारत का मसला जल्द निपटा लिया जाएगा। साफ हो जाएगा कि भारत के खिलाफ कार्रवाई होगी या नहीं। यूक्रेन में रूसी हस्तक्षेप और अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव में दखल के आरोप में राष्ट्रपति ट्रंप ने रूस पर प्रतिबंध लगा दिया है। काटसा (काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सेंक्शंस एक्ट) के नाम से लगा यह प्रतिबंध रूस के साथ सामरिक और कारोबारी रिश्तों पर रोक लगाता है। इसमें रूस से रिश्ता रखने वाले देश के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान है।