BREAKING NEWS

image caption:

भीम आर्मी के संस्थापक ने जेल से रिहा होतेे ही बीजेपी के खिलाफ किया जंग का एेलान

Date : 2018-09-14 02:35:00 PM

लखनऊ : भीम आर्मी के प्रमुख और सहारनपुर में 2017 में हुई जातीय हिंसा के मुख्य आरोपी चन्द्रशेखर उर्फ रावण को सरकार ने कल देर रात करीब 2:24 बजे जेल से रिहा कर दिया है। चन्द्रशेखर लगभग 16 महीने से सहारनपुर की जेल में बंद था। गौरतलब है कि योगी सरकार ने उसकी रिहाई के लिए बुधवार को ही आदेश दे दिया था। चन्द्रशेखर की रिहाई के दौरान जेल के बाहर भारी मात्रा में समर्थक जमा हुए थे।चंद्रशेखर 'रावण' ने जेल से रिहाई होने के तुरंत बाद एक सभा को संबोधित करते हुए बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार सुप्रीम कोर्ट से लगी फटकार के बाद सरकार डरी हुई थी, इसलिए उन्होंने खुद को बचाने के लिए जल्दी रिलीज का आदेश दिया।  इसके साथ ही चंद्रशेखर ने कहा कि मैं 2019 में बीजेपी को सत्ता में नहीं रहने दूंंगा और लोगों से इसके बारे में बात करुंगा। उन्होंने कहा कि मैं आश्वस्त हूं कि वह10 दिनों के भीतर मेरे खिलाफ कुछ न कुछ आरोप लगाएंगे। आपको बता दें कि जेल में बंद भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को रिहा कराने के लिए संगठन के कार्यकत्र्ता कई प्रकार की योजना बना रहे थे। चंद्रशेखर को पिछले साल सहारनपुर में जातीय दंगे फैलाने के आरोप में पकड़ा गया था और तब से वह जेल में हैं।