BREAKING NEWS

image caption:

4 फीफा फेन्स 4000 किमी गाड़ी चलाकर फाइनल देखने पहुंचे रूस

Date : 2018-07-16 12:35:00 PM

मॉस्को : फुटबॉल विश्व कप फाइनल में अपनी टीम को सपोर्ट करने के लिए चार दोस्तों ने क्रोएशिया से रूस तक चार हजार किमी का सफर कार से पूरा किया। हालांकि, फैन्स ये इच्छा अधूरी ही रह सकती है, क्योंकि पहले से ही बुक हो चुके स्टेडियम में टिकट की कीमत 2 हजार डॉलर्स हो चुकी है, यानी चारों दोस्तों को मैच देखने के लिए 8 हजार डॉलर्स खर्च करने पड़ेंगे। एेसे में अब इन दोस्तों ने फैसला किया है कि वो टिकट्स नहीं खरीदेंगे। ग्रुप के एक सदस्य का कहना है कि जितनी टिकट की कीमत है, उतने में वो एक कार खरीद सकते हैं। 7 जुलाई को क्रोएशिया का क्वार्टरफाइनल मैच रूस से था। इसे देखने के लिए चारों ने योजना बनाई कि वे मॉस्को तक ड्राइविंग कर के पहुंचेगे। चारों युवकों ने 2 हजार किलोमीटर तक का सफर कार से ही तय किया। इस दौरान रास्ते में हंगरी, रोमानिया, मोलदोवा को पार करते हुए चारों यूक्रेन स्थित रूस की सीमा तक पहुंच गए। हालांकि, यूक्रेन के आगे उन्हें क्रीमिया से जाने की अनुमति नहीं मिली, क्योंकि रूस और यूक्रेन के बीच ये इलाका 2014 से विवादित है। इसके चलते चारों युवक क्वार्टरफाइनल मैच देखने से चूक गए।

क्रोएशिया की जीत से बंधी फिर मैच देखने की उम्मीदःक्वार्टरफाइनल में क्रोएशिया की रूस पर जीत से दोस्तों की अपनी टीम को सपोर्ट करने की उम्मीद एक बार फिर बंधी। लेकिन आगे जाने का रास्ता न होने के कारण चारों कार से वापस दो हजार किलोमीटर का सफर तय कर क्रोएशिया लौट गए। इसके बाद चारों क्रोएशिया से फ्लाइट से मॉस्को पहुंचे और फाइनल के लिए टिकटों के खोज में जुट गए। लेकिन एक बार फिर उनकी मैच देखने की उम्मीद तब खत्म हो गई जब उन्हें पता चला कि फाइनल के एक टिकट की कीमत 2 हजार डॉलर है। यानी चारों को मैच देखने के लिए 8 हजार डॉलर (करीब साढ़े पांच लाख रुपए) खर्च करने पड़ते। ग्रुप के एक सदस्य डुब्रावको फ्लेगर के मुताबिक, पहली बार जब हम मैच देखने के लिए कार से निकले तो उन्हें रूस-क्रीमिया बॉर्डर के नियमों के बारे में नहीं पता था, जिसकी वजह से छह दिन आने-जाने में खराब हुए। इसके बाद जब क्रोएशिया के जीतने से उनकी फाइनल में पहुंचने की उम्मीद जगी, तो टिकट इतना महंगा मिल रहा है कि इतने में चारों मिलकर एक कार ले सकते हैं।